Sunday, February 22, 2015

"पैसा यह पैसा ,कैसा है पैसा

"पैसा यह पैसा ,कैसा है पैसा "आज के युग का खुद ,ईश्वर और सब कुछ ,जिसके पास पैसा वही सच्चा  सच है न ? आईये आपको बताती हूँ कहाँ से शुरू हुआ यह पैसे की दुनिया का खेल। आज आपको बताऊँगी मैं सिक्को यानी पैसे के बारे में कुछ रोचक बातें ...सारी दुनिया आज कल इस के पीछे पागल है ...:) पर यह कैसे कैसे रूप में आए और दुनिया को अपने इशारों पर नचाया आईये आपको बताते हैं ...

१) कागज के नोट संसार में सबसे पहले चीन में १९० इस्वी में चले

२ )सम्वत लिखा सबसे पुराना सिक्का १२३४ इस्वी का डेनमार्क का है

३ )धातु का सबसे भारी सिक्का स्वीडन में १६४४ में निकला था उसका वजन २१ किलोगार्म था और उसकी कीमत होती थी उस वक्त २ गाय

४) याक द्वीप पर कुछ पत्थर के सिक्के भी मिले हैं जो करीब ३.५ ऊँचे और ८० किलो वजन के हैं

५ )सबसे अधिक कीमत वाला नोट सयुंक्त राज्य अमेरिका ने निकला था जो १० हज़ार डॉलर का नोट था सन् १९४४ के बाद वैसे नोट फ़िर कभी नही छापे गए

६ )सबसे छोटा सिक्का सन् १७४० में नेपाल ने जारी किया था जो केवल २ बाय २ का मिलीमीटर का था

७ )सबसे आकार में छोटा नोट चीन में सन् १३६८ इस्वी में छापा था उसका आकार ३३/२३ सेन्टीमीटर था


८)सिक्को से धातु चोरी करना पुरानी जाल साजी है १७ सदी में इसकी रोकथाम के लिए सिक्कों के चारो और खडी हुई धारियाँ बनायी जाने लगी जिसे अगर कोई सिक्के से धातु को काटे तो पता चल जाए


९) भारत में १ रुपये का नोट भारत सरकार तथा २ रुपये का नोट जो अब कम ही दिखता है और उस से बड़े नोट भारतीय रिजर्व बैंक जारी करता है भारतीय नोट पर उसका मूल्य कई भाषा लगभग १५ भाषा में लिखा रहता है

१० )और क्या आप जानते हैं की सिक्के और मुद्रा इक्ट्ठे करने के शौक को न्यूमिजमेटिक्स कहते हैं

Post a Comment