Monday, December 02, 2013

नॉट सो नाइंटी

नॉट सो नाइंटी "....रिटन बाय Purva Bhatia .....मेरी छोटी बेटी की पहली बुक ..जो बायोग्राफी है "सरदार करतार सिंह जी "की |एक आम इंसान जिनके नाइंटी बर्थडे  पर उनके बेटे ने उनके शब्दों में उनके अब तक के सफ़र को "पूर्वा "की कलम से कलमबद्ध करवाया है....वाकई एक अनमोल तोहफा है यह उनके जन्मदिन का और ख़ुशी भी कि आज के वक़्त में जब बुजुर्ग आउटडेटेड कहे ,माने जाते हैं वही अब भी कहीं  प्यार और सम्मान भी मौजूद है ....ज़िंदा दिल दारजी की यादें इस किताब में आने वाली पीढ़ियों के लिए सुरक्षित हो गयी है और एक मिसाल भी बन गयी है
....मेरी अपनी कई बुक्स आ चुकी है पर जो ख़ुशी इस बुक के आने पर हुई है वह बहुत अमेज़िंग है ...हाथ में आते ही जो रोमांच दिल में अनुभव हुआ वह ब्यान नहीं किया जा सकता है ....सच में बच्चे जब आगे बढ़ते हैं तो जो ख़ुशी होती है वह किसी भी ख़ुशी से बढ़ कर होती है ....अभी तक जितनी पढ़ी है मैंने वह बहुत इंटरस्टिंग है ..एक नब्बे साल के युवा के बारे में उनके बचपन से ले कर अब तक के सफ़र को पूर्वा ने बहुत रोचक अंदाज़ से लिखा है ...पाकिस्तान बंटवारा उस वक़्त से अब तक का दौर और एक रिटायर्ड आर्मी "दारजी "का व्यक्तित्व पढ़ने में रूचि बनाये हुए हैं ..बाकी पढ़ने के बाद लिखूंगी अभी तो आप सबसे यह बुक आने की ख़ुशी शेयर कर रही हूँ और साथ ही दुआ की पूर्वा तुम यूँ ही आगे बढ़ो ...:)
Post a Comment