Friday, September 14, 2007

कुछ उपयोगी परिभाषा :

कुछ उपयोगी परिभाषा :
* अनाड़ी- जिसके पायजामे में नाड़ी न हो।
* परिचर्चा- परियों के बारे में चर्चा।
* उपयोगी- प्रधान योगी का सहयोगी।
* बहुरूपिया- जिसके पास बहुत सा रुपया हो।
* बुनियाद- बुने वस्त्रों को देख जब किसी की याद आए।
* फलस्वरूप- जिसका किसी फल जैसा स्वरूप हो।
* अनुकूल- अनु नामक लड़की का गुस्सा जब शांत हो जाए।
* योगासन- 'योगा' करने वाला 'सन' (बेटा)।
* पगडंडी- जिसके पग, डंडी की तरह पतले हों।
* चिल्लाना- 'चिल्ड' लाना।


यह सुधांशु जी ने मेरी अर्कुट की स्क्रेप बुक में आज स्क्रेप किया मुझे बहुत मजेदार लगा
आपके साथ इसको शेयर कर रही हूँ
Post a Comment