Thursday, May 15, 2008

जो तू आन्खियो के सामने नही रहना ते बीबा मेरा दिल मोड़ दे

जो तू आन्खियो के सामने नही रहना ते बीबा मेरा दिल मोड़ दे ..एक सूफी गीत जो सीधा दिल में उतर जाता है
बताये क्या मैंने झूठ कहा :)

Post a Comment